Tuesday, 6 December 2011

फ्रेंडशिप


फ्रेंडशिप

FRIENDSHIP


मन में जला के प्यार का दीप,
एक दुसरे को बना के चीफ ।।
चलो मनाएं फ्रेंडशिप,
चलो मनाएं फ्रेंडशिप ।।
मेरी खुशियाँ भी तेरे जीवन में,
हो जाए मिक्स।।
सारे दुख दूर हो और,
सारी खुशियों हो जाए फिक्स।।
चलो मनाएं फ्रेंडशिप,
चलो मनाएं फ्रेंडशिप ।।
दर्द तुझको हो तो,
मेरे हलक से निकले चींख।
तेरे सारे गम,
मुझ पर जाएँ बीत ।
चलो मनाएं फ्रेंडशिप,
चलो मनाएं फ्रेंडशिप ।।
न देना ग्रीटिंग्स,
न देना कोई गिफ्ट ।
प्यार, विश्वास अपनापन ही है,
दोस्ती का अच्छा टिप्स ।।
चलो मनाएं फ्रेंडशिप।
चलो मनाएं फ्रेंडशिप।।
_______________________________

गोकुल कुमार पटेल


(इन रचनाओ पर आपकी प्रतिक्रिया मेरे लिए मार्गदर्शक बन सकती है, आप की प्रतिक्रिया के इंतजार में ।)
Post a Comment